इन दिनों आनलाइन पढ़ाई का जमाना है। किताबों में सिर खपाए हुए दिन रात खटने वाले छात्रों की तस्वीर अब दुर्लभ है। लेकिन दिक्कत गरीबी रेखा से नीचे रह रहे उन परिवारों के साथ आती है, जो वित्तीय संकट की वजह से अपने बच्चों को शिक्षा के लिए आवश्यक संसाधन मुहैया नहीं करा पाते। ऐसे ही बीपीएल (BPL) परिवारों के छात्र छात्राओं की सहायता के लिए गुजरात सरकार ने कदम बढ़ाया है।

आपको बता दें कि गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने 13 जुलाई, 2017 को नमो टैबलेट योजना का शुभारंभ किया था। इसके तहत करीब 3.5 यानी साढ़े तीन लाख छात्र छात्राओं को टैबलेट मुहैया कराने का लक्ष्य रखा गया है। यहां नमो से तात्पर्य New avenues of modern education through tablet से है।

इस योजना के तहत 12वीं पास करके कालेज में प्रवेश करने वाले छात्र छात्राओं को उनकी पढ़ाई में सहायता के लिए महज एक हजार रुपए में निर्धारित स्पेसिफिकेशन (specification) का टैबलेट प्रदान किया जाता है। ये सभी स्पेसिफिकेशन गुजरात सरकार की ओर से योजना दस्तावेज में बताए गए हैं।

गुजरात सरकार के द्वारा शुरू की गई इस नमो टैबलेट योजना का उद्देश्य गरीबी रेखा से नीचे गुजर-बसर करने वाले छात्र छात्राओं को सब्सिडीशुदा दरों पर ब्रांडेड टैबलेट प्रदान करना है, ताकि गरीब एवं पिछड़े वर्ग के बच्चे भी उच्च शिक्षा का सपना पूरा कर सकें।

इन दिनों कोरोना संक्रमण की वजह से आनलाइन पढ़ाई पर जोर है। ऐसे में टैबलेट की वजह से निर्धन एवं बीपीएल वर्ग से ताल्लुक रखने वाले छात्र छात्राओं की शिक्षा आसान हो जाएगी।

इस योजना के अंतर्गत करीब 252 करोड़ रुपये का बजट Namo Tablet Yojana 2023 के लिए आवंटित किया गया है। गुजरात सरकार की यह महत्वपूर्ण योजना में, जिसके संचालन का जिम्मा गुजरात के शिक्षा विभाग पर है। आवंटित राशि से उसे लाखों छात्र छात्राओं की जिंदगी बदलने की उम्मीद है।

सबसे पहले आपको अपने उस कॉलेज या शैक्षणिक संस्था में जाना होगा, जहां आपने प्रवेश लिया है। यहां आपको नमो टैबलेट योजना के तहत रजिस्ट्रेशन की बाबत पूछना होगा। आपको संबंधित व्यक्ति के पास भेज दिया जाएगा।

यदि आपको नमो टैबलेट योजना के तहत टैबलेट लेने में कोई समस्या आ रही है अथवा आपकी कोई जिज्ञासा है तो आप हेल्पलाइन नंबर (Helpline number) 079 26566000 पर संपर्क कर सहायता ले सकते हैं। शर्त यह है कि इसके लिए आपको सुबह 11 बजे से शाम 5 बजे के बीच ही फोन घुमाना होगा।

नमो टैबलेट योजना के बारे में अधिक जानकारी के लिए नीचे लिंक पर क्लिक करें?