छत्‍तीसगढ़ की नयी भूपेश बघेल सरकार ने राज्‍य के आदिवासियों तथा समाज के निर्धनतम वर्ग के लोगों के लिये एक बहुत ही शानदार योजना की शुरूआत की है।  इस योजना का नाम छत्‍तीसगढ़ मुख्‍यमंत्री मधुर गुड़ योजना है। 

त्‍तीसगढ़ मुख्‍यमंत्री मधुर गुड़ योजना को राज्‍य के खाद्ध मंत्री अमरजीत भगत ने जगदलपुर में एक कार्यक्रम के दौरान लांच किया। इस योजना को जनवरी 2022 में ही लांच किया गया है।

Madhur Gud Yojana को लांच करने के बाद अमरजीत भगत ने बताया कि इस योजना के तहत प्रत्‍येक गरीब तथा कुपोषित परिवार को हर महीने 2 किलो गुड़ प्रदान किया जाएगा। जिसकी कीमत केवल 17 रूपये प्रति किलो रखी गयी है।

मधुर गुड़ योजना को राज्‍य के बस्‍तर संभाग में आने वाले सभी जिलों में लागू किया जा रहा है। इसलिये इस संभाग में रहने वाले राज्‍य के 6 लाख 59 हजार लोगों को इस योजना का लाभ मिलने जा रहा है।

छत्‍तीसगढ़ सरकार ने आदिवासी तथा गरीब ग्रामीणों को खून की कमी तथा कुपोषण से छुटकारा दिलाने का एक बहुत ही बेहतरीन आइडिया खोज निकाला है।

इस आइडिया के तहत बस्‍तर संभाग में रहने वाले गरीब परिवारों को हर माह 2 किलो गुड़ प्रदान किया जाएगा। हम सभी जानते हैं कि गुड़ एक बहु ही पौष्टिक खाद्ध पदार्थ है। इसमें आयरन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। जिसके सेवन से कुपोषण के शिकार लोग खून की कमी को हमेशा के लिये दूर कर सकते हैं।

इस योजना के अंतर्गत हर महीने 2 किलो गुड़ सरकारी सस्‍ते गल्‍ले की दुकानों से प्राप्‍त होगा। इसलिये आपका राशन जिस कोटेदार की दुकान से मिलता है। आप वहीं से जाकर अपना गुड़ प्राप्‍त कर सकते हैं।

छत्तीशगढ़ मधुर गुड़ योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य राज्य में खून की कमी से जूझ रही महिलायें तथा बच्‍चों को आयरण युक्‍त पोषण प्रदान करके उनकी स्थिति को सुधारना है.

मुख्‍यमंत्री मधुर गुड़ योजना के बारे में अधिक जानकारी के लिए नीचे लिंक पर क्लिक करें?