डाबर आज भारत का सबसे भरोसेमंद ब्रांड है और 250 से अधिक हर्बल/ आयुर्वेदिक उत्पादों के पोर्टफोलियो के साथ दुनिया की सबसे बड़ी आयुर्वेदिक और प्राकृतिक स्वास्थ्य देखभाल कंपनी है।

कलकत्ता की गलियों में अपनी विनम्र शुरुआत से डाबर इंडिया लिमिटेड ने आज दुनिया में सबसे बड़े हर्बल और प्राकृतिक उत्पाद पोर्टफोलियो के साथ सबसे बड़ी भारतीय स्वामित्व वाली उपभोक्ता सामान कंपनियों में से एक बनने के लिए एक लंबा सफर तय किया है।

भारत एक विकासशील देश है और जैसा कि किसी भी अन्य विकासशील देश के बाजार के मामले में होता है, ऐसा ही भारतीय बाजार में है यहाँ के ग्राहकों की वृद्धि बहुत तेजी के साथ हो रही है, विशेष रूप से ऑटोमोबाइल सेक्टर और एफएमसीजी जैसे क्षेत्रों में।

एफएमसीजी या फास्ट मूविंग कंज्यूमर गुड्स हमारी दिन प्रतिदिन की जरूरतों के उत्पाद को कहते हैं। इन वस्तुओं की लगातार मांग भारतीय बाजार में बढती जा रही है क्योंकि ग्राहकों को इनकी नियमित रूप से आवश्यकता होती है।

जिससे ऐसी वस्तुओं की बिक्री अधिक होती है। भारत का एफएमसीजी बाजार 14.9% की सीएजीआर से बढ़कर 2025 तक 220 बिलियन अमेरिकी डॉलर तक पहुंचने की उम्मीद है।

डाबर के द्वारा डिस्ट्रीब्यूटरशिप उस व्यक्ति को दी जाती है जिसे व्यवसाय चलाने का कुछ अनुभव होता है। यदि आप वर्तमान में एक दुकान या किसी अन्य ब्रांड की डिस्ट्रीब्यूटरशिप चला रहे हैं, तो इससे आपको डाबर डिस्ट्रीब्यूटरशिप मिलने की संभावना बढ़ सकती है।

डाबर में डिस्ट्रीब्यूटरशिप की लागत 2 लाख रुपए से शुरू होती है। हालाँकि, यह उन उत्पादों पर निर्भर करता है जिनके लिए आप डिस्ट्रीब्यूटरशिप लेने का निर्णय लेते हैं। आपके द्वारा चुने गए उत्पादों जैसे स्वास्थ्य प्रोडक्ट, घरेलू प्रोडक्ट, भोजन, पेय पदार्थ आदि के आधार पर लागत बढ़ती घटती रहती है।

इसके अलावा आपको उस स्थान पर निवेश करने की आवश्यकता होगी जहां आप इन उत्पादों को रखेंगे और स्टोर करेंगे क्योंकि आपको इन उत्पादों को दुकानों और व्यवसायों में भी वितरित करना होगा,

डाबर डिस्ट्रीब्यूटरशिप कैसे शुरू करे?  अधिक जानकारी के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करे?