आज बिहार प्रदेश के किसानों के बीच कृषि सिंचाई एक सबब का विषय बना हुआ है, क्योंकि प्रदेश में हर दिन कृषि योग्य नहरों, झीलों, नदियों की संख्या में कमी आती जा रही है।

जिसका सीधा असर किसान की फसल उत्पादन क्षमता पर देखने को मिल रहा है क्योंकि अगर किसी भी फसल को समय पर पानी नहीं मिलता है तो फसल का कई प्रतिशत भाग निष्ट हो जाता है।

इसी समस्या का कुछ हद तक समाधान निकालते हुए। बिहार सरकार द्वारा बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना 2022 के संचालन की नीतियों को तैयार किया है।

अगर आप भी बिहार प्रदेश के किसान है और कृषि सिंचाई की समस्या का सामना कर रहे हैं तो ये योजना आपके लिए भी बहुत महत्वपूर्ण साबित हो सकती है।

इस योजना के शुरू होने से किसानों की आर्थिक स्थिती में सुधार आयेगा और उनकी उत्पादन क्षमता में भी वृद्धि होगी।

इसके अंतर्गत किसान को 70 मीटर तक की गहराई का नलकूप कराने पर 15 हज़ार और 100 मीटर गहराई तक का नलकूप लगवाने पर 35,000 रुपये तक की सब्सिडी प्रदान की जाती है।

इस योजना के शुरू होने के प्रदेश में निजी नलकूपों की संख्या में वृद्धि होगी और किसानों को सिंचाई समस्यों से छुटकारा मिलेगा।

बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना से जुडी ज्यादा जानकारी के लिए नीचे क्लिक करे।