Jharkhand Bhulekh Khasra Khatauni | झारखंड भूलेख खतौनी खसरा, जमीन का नक्शा, जमाबंदी

7

आज के इस लेख में हम आपको Jharkhand Bhulekh Khasra Khatauni कैसे देखा जाता है इसके बारे में जानकारी देने वाले है , यदि आप इस जानकारी को अच्छेसे पढ़ेंगे तो झारखंड के Jharkhand Bhulekh Khasra Khatauni देखने की प्रक्रिया आपको समझ मे आ जाएंगी। झारखंड राज्य के सरकार ने अभी ऑनलाइन पोर्टल की सुविधा उपलब्ध करवाई है यानी कि अब कोई भी नागरिक ऑनलाइन वेबसाइट का इस्तेमाल करके अपने भूलेख के बारे में जानकारी हासिल कर सकता है।

Jharkhand Bhulekh Khasra Khatauni | झारखंड भूलेख खतौनी खसरा, जमीन का नक्शा, जमाबंदी

इस पोर्टल योजना का मुख्य उद्देश्य झारखंड के लोगों को उनकी भूमि के बारे में जानकारी देना है आमतौर पर यह रिकॉर्ड राज्य सरकार के राजस्व भूमि सुधार विभाग भूमि संसाधन विभाग के पास सुरक्षित होते थे लेकिन इस योजना के तहत लोग अपनी जमाबंदी ऑनलाइन देख सकते हैं जैसे कि अपनी भूमि या खेत की जमाबंदी की नकल खसरा नंबर का नक्शा अभी सब काम आप इंटरनेट के माध्यम से ऑनलाइन देख सकते हैं। झारखंड के सरकार ने अब पूरी प्रक्रिया आसान कर दी है ताकि झारखंड के लोगो को ज्यादा परेशानी न हो। 

Jharkhand Bhulekh Khasra Khatauni | झारखंड भूलेख खतौनी खसरा –

झारखंड प्रदेश में यदि लोगो को जमाबंदी या फिर जमीन का नक्शा या कोई और सुविधा के बारे में लाभ लेना होता है तो उन्हें काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है, और यही सबसे बड़ा कारण है कि झारखंड प्रदेश राजस्व विभाग ने सारे जमीनी रिकॉर्ड ऑनलाइन कर दिए हैं। अब इस सुविधा के उपलब्ध होने के कारण अब आपको किसी भी सरकारी दफ्तर में चक्कर लगाने की जरूरत नही पड़ेगी। आप अपने घर मे बैठकर ही अपने मोबाइल फ़ोन या कंप्यूटर से सारी जानकारी आसानी से हासिल कर सकते है।

झारखंड प्रदेश के नागरिकों को अब चिंता करने की बिल्कुल भी जरूरत नही है क्योंकि आपकी जानकारी के लिए बता दें कि झारखंड प्रदेश Land Records अब ऑनलाइन हो चुका है। इसके जरिये आसानी से लोग अपनी जमीन की जानकारी ऑनलाइन हासिल कर सकते है और साथ ही अपनी जमीन से जुडी जानकारी को डाऊनलोड भी कर सकते है। लोगो को अब पतवार खाने और तहसील जाने की जरूरत नही होगी और न ही किसी सरकारी दफ्तर में चक्कर लगाने की जरूरत पड़ेगी।

साथ ही इसका सबसे बड़ा फायदा यह है कि अब झारखंड प्रदेश भू – अभिलेख/ जमाबंदी / खसरा खतौनी की जानकारी ऑनलाइन होने के कारण अब भूमि का डाटा सुरक्षित भी रखा जा सकता है और डेटा को वायरल होने से बचाया जा सकता है।

District Wise Jharkhand Bhulekh Khasra Khatauni

गढवाराँची 
हजारीबाग पश्चिमी सिंहभूम 
रामगढ़खुटी
गिरीडीहसराइकेला खरसावाँ
पलामू सिमडेगा 
बोकारोदेवघर
कोडरमाजामताड़ा
धनबादपश्चिमी सिंहभूम 
चतरादुमका
लातेहारपाकुड़
लोहरदग्गा गोड्डा
गुमलासाहिबगंज

Jharkhand Bhulekh Khasra Khatauni कैसे देखे?

Time needed: 25 minutes.

  1. पोर्टल वेबसाइट पर जाएँ

    सबसे पहले आपको झारखंड की https://jharbhoomi.nic.in/jhrlrmsmis/ इस ऑनलाइन वेबसाइट पर जाना है।

  2. अपना खाता देखें पर क्लिक करें

    जैसे ही आप लिंक पर क्लिक करोगे तो आपके सामने एक पेज खुल जाएगा जैसे कि आपको नीचे की फ़ोटो में दिखाई दे रहा है। अब आपको ऑनलाइन खाता देखने के लिए “अपना खाता” पर क्लिक करना है।
    Jharkhand Bhulekh Khasra Khatauni

  3. district चुनें

    इसके बाद आपको नक्शा देखकर अपने जिले को सिलेक्ट करना है। जैसा की आप नीचे फोटो में देख सकते हैं.
    Jharkhand Bhulekh Khasra Khatauni

  4. जिला चुनने के बाद आपके सामने एक पेज खुल जाएगा। उस जिले का नक्शा खुलने के बाद, स्क्रीन पर दिख रहे ब्लाक में से अपना ब्लाक चुनें। जैसे की आपको नीचे फ़ोटो में दिखाई दे रहा है।
    Jharkhand Bhulekh Khasra Khatauni

  5. जानकारी भरें

    ब्लॉक से;सेलेक्ट करने के बाद नया पेज ओपन होगा जैसे की आप नीचे फोटो में देख सकते है,इस पेज में आपको पूछी गयी सभी जानकारी जैसे  हल्का नंबर,मौजा,किस्म जमीन को सेलेक्ट करना है. और खाता खोजे पर क्लिक कर दें.
    harkhand Bhulekh Khasra Khatauni

  6. से ही आप सारी जानकारी भर देते है उसके बाद आपको खाता खोजे पर क्लिक करना है। अब आपका खाता आपके सामने दिखेगा।
    Jharkhand Bhulekh Khasra Khatauni

भूलेख क्या होता है?

बहुत से लोग भूलेख देखने के लिए ऑनलाइन वेबसाइट पर तो चले जाते है परंतु उन्हें भूलेख क्या होता है यही पता नही रहता। तो चलिए सबसे पहले भूलेख क्या होता है इसके बारे में बता देते है। दोस्तो भूलेख को अलग अलग राज्यों में अलग अलग नामो से जाना जाता है जैसे की – भूमि का ब्यौरा, जमाबंदी, भूमि अभिलेख, खेत के कागजात, खेत का नक्शा, खाता, इत्यादि और भी बहुत ऐसे नाम है जो लोग अपने अपने हिसाब से जोड़ते है।

पहले यह जान लीजिए कि पहले झारखंड प्रदेश में पहले यह सब जानकारी निकलने में काफी वक्त लग जाता था जिसके कारण लोग बहुत परेशान हो जाते थे। इसी कारण झारखंड के लोगो की समस्या बहुत ज्यादा ही बढ़ गयी थी। बहुत से लोगो को यह समस्या होती थी इसीलिए इसी समस्या का समाधान करने के लिए Jharkhand Bhulekh Khasra Khatauni मैनेज करने के उद्देश्य से इसका भूलेख पोर्टल खतौनी को कंप्यूटरीकृत किया गया है ताकि आगे अब किसी को परेशानी का सामना न करना पड़े।

ऑनलाइन भूलेख के लाभ क्या हैं?

वैसे तो भूलेख के कई सारे लाभ है, परंतु हम आपको उनमे से कुछ जरूरी लाभ बताने वाले है। तो चलिए अब हम आपको झारखंड प्रदेश के भूलेख योजना के लाभ बताते है।

झारखंड प्रदेश सरकार द्वारा इस वेबसाइट को उपलब्ध करवाया गया है , इस ऑनलाइन वेबसाइट पर Jharkhand Bhulekh Khasra Khatauni देखने के कई सारे लाभ उपलब्ध है , परंतु आज हम आपको उनमे से कुछ ही लाभो के बारे में बताने जा रहे है। तो चलिए अब ऑनलाइन भूलेख के लाभो के बारे में जानते है।

1. अब भूलेख देखने के लिए ऑनलाइन वेबसाइट का निर्माण किया गया है तो इसका सबसे बड़ा लाभ यह है कि अब आम नागरिक और जनता को किसी भी तहसील कार्यलय या सरकारी दफ्तरों में चक्कर नही लगाने पड़ेंगे।

2. इस ऑनलाइन पोर्टल का दूसरा सबसे बड़ा लाभ यह है कि अब किसी को भी घुस देने की जरूरत नही पड़ेगी। पहले जब ऑनलाइन पोर्टल उपलब्ध नही थे तब गरीब जनता को बहुत लुटा जाता था परंतु अब ऑनलाइन वेबसाइट आने के कारण यह सब बंद हो चुका है।

3. ऑनलाइन वेबसाइट उपलब्ध होने से अब सभी लोगो के समय की बचत होगी , पहले लोगो को बहुत समय नष्ट करना पड़ता था।

4. इसका सबसे आखरी फायदा यह है कि अब सभी लोग घर बैठे ही अपने मोबाइल फ़ोन या कंप्यूटर पर खुद ही ऑनलाइन वेबसाइट ओपन करके देख सकते है।

Conclusion :

दोस्तो आज के इस लेख में हमने आपको Jharkhand Bhulekh Khasra Khatauni | झारखंड भूलेख खतौनी खसरा, जमीन का नक्शा, जमाबंदी के बारे में जानकारी दी है। यदि यह लेख आपको पसंद आये तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे।

7 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here