जमीन पर स्टे लेने में कितना खर्चा आता है?| Jamin Par Stay Order Lene me Kitna Kharch Aata Hai in Hindi

|| जमीन पर स्टे लेने में कितना खर्चा आता है? | Jamin Par Stay Order Lene me Kitna Kharch Aata Hai in Hindi | स्टे आर्डर क्या होता है? | Stay Order Kya Hota Hai in Hindi | जमीन पर स्टे कब लगाया जाता है? | जमीन में स्टे कैसे लगाएं? ||

कई बार ऐसा होता है कि हमारी जमीन पर कोई दूसरा व्यक्ति अवैध कब्जा कर लेता है और उसे पर अवैध निर्माण कार्य करना शुरू कर देता है, ऐसी स्थिति में व्यक्ति अपनी जमीन पर किए जा रहे अवैध कब्जे या फिर निर्माण को रोकने के लिए कानूनी कार्रवाई करता है इसके बाद कोर्ट के द्वारा स्टे आर्डर जारी किया जाता है, कोर्ट के आदेश के अनुसार जारी स्टे आर्डर मिलते ही पुलिस तुरंत मौके पर पहुंचकर निर्माण कार्य को रोकते हैं और साथ ही साथ यह निर्देश भी जारी किया जाता है कि अगले आदेश तक जमीन पर कोई भी निर्माण कार्य नहीं किया जा सकता है। 

अगर आपकी जमीन पर भी कोई व्यक्ति कब्जा करके अवैध निर्माण कर रहा है तो आप कोर्ट की शरण में जाकर स्टे ऑर्डर लेकर अपनी जमीन पर हो रहे निर्माण कार्य को रुकवा सकते हैं। अगर आप नहीं जानते की स्टे आर्डर क्या होता है? जमीन पर स्टे लेने के लिए आपको क्या करना होगा और जमीन पर स्टेट लेने में कितना खर्च आता है? तो आप बिल्कुल सही लेख पढ़ रहे हैं क्योंकि आज के इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको Jamin Par Stay Order Lene me Kitna Kharch Aata Hai in Hindi के संबंध में पूरी जानकारी प्रदान करने वाले हैं तो चलिए और अधिक समय को व्यस्त किए बिना जमीन पर स्टे आर्डर कैसे लगे? के संबंध में जानना शुरू करते है-

स्टे आर्डर क्या होता है? | Stay Order Kya Hota Hai in Hindi 

आप सभी ने कभी ना कभी स्टेटस का नाम तो जरुर सुना होगा लेकिन बहुत ही कम लोग ऐसे होंगे जिन्हें स्टे आर्डर क्या होता है? के बारे में संबंध होगा. जब कोई व्यक्ति किसी दूसरे की जमीन पर कब्जा करके अवैध निर्माण करता है या फिर जबरन आपकी जमीन को हटाने का प्रयास करता है तो जमीन पर किए जाने वाले उसे अवध निर्माण को रोकने के लिए जमीन मालिक कोर्ट से जो आर्डर प्राप्त करता है, उसे स्टे आर्डर कहते हैं। 

Jamin Par Stay Order Lene me Kitna Kharch Aata Hai in Hindi

इसके आर्डर जारी होने के बाद कोई भी व्यक्ति उसे जमीन पर किसी भी प्रकार का निर्माण नहीं कर सकता है और अगर स्टे आर्डर जारी होने के बाद भी कोई व्यक्ति अवैध निर्माण करता है तो उसके खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाती है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कोई भी व्यक्ति डायरेक्ट कोर्ट से हिस्ट्री आर्डर नहीं ले सकता है इसके लिए उसे एक वकील की आवश्यकता होती है। 

अगर आपकी जमीन पर भी कोई कब्जा करने का प्रयास कर रहा है और आप अपनी जमीन पर होने वाले अवैध कब से को रोकना चाहते हैं तो आप कोर्ट से स्टे आर्डर ले सकते है अब आप सोच रहे होंगे कि जमीन पर स्टे ऑर्डर कैसे ले? और स्टे आर्डर लेने में कितना खर्च आता है? तो आपके लिए हमने नीचे जमीन पर स्टे आर्डर लेने की पूरी प्रक्रिया के संबंध में स्टेप टू स्टेप बताया है इसलिए आपसे निवेदन है कि आप हमारे इस आर्टिकल को बिना छोड़ें पूरा अंतिम तक जरूर पढ़िए।

जमीन में स्टे कैसे लगाएं?

कभी-कभी ऐसा देखा गया है कि लोगों की जमीन पर कोई अन्य व्यक्ति जबरदस्ती कब्जा करके निर्माण करना शुरू कर देते है, जिसे आए दिन गरीब नागरिकों की जमीन को छीना जा रहा है। यदि आपकी जमीन पर किसी अन्य व्यक्ति के द्वारा अवैध निर्माण किया जा रहा है या फिर अन्य व्यक्ति आपकी जमीन को अपना खाने का दावा कर रहा है तो इस स्थिति में आप कोर्ट में सिविल जज के सामने अपना वाद पत्र प्रस्तुत करके जमीन पर स्टे ले सकते है। ध्यान रहे जमीन पर स्टे प्राप्त करने के लिए आप स्वयं वाद प्रस्तुत नहीं कर सकते हैं बल्कि इस कार्य को पूरा करने के लिए आपको एक वकील हायर करने की आवश्यकता पड़ेगी।

अगर आप नहीं जानते तो हम आपको बता दें कि जिस व्यक्ति के द्वारा बैंक के सिविल जज के समक्ष वाद पत्र प्रस्तुत किया जाता है उसे वादी कहा जाता है और जिस व्यक्ति के द्वारा जिस व्यक्ति के खिलाफ वाद पत्र प्रस्तुत किया जाता है उसे प्रतिवादी कहते हैं। वकील के द्वारा सिविल जज के समक्ष अर्जी प्रस्तुत करने के बाद जज के द्वारा मामले की जांच की जाती है और यदि शिकायत सही पाई जाती है तो कोर्ट के द्वारा प्रतिवादी द्वारा किए जा रहे निर्माण कार्य पर रोक लगा दी जाती है अर्थात इसके आर्डर जारी कर दिया जाता है जिसकी एक हार्ट काफी वादी को भी प्राप्त होती है। 

न्यायाधीश के द्वारा जमीन पर निर्माण कार्य को रोकने के लिए स्ट का ऑर्डर देने के साथ ही परिष्कर्मियों को यह आदेश भी दिया जाता है कि वहां पर मौजूद जमीन पर कोई भी तब तक निर्माण कार्य न कर सके जब तक दोबारा अगला आदेश जारी न किया जाए। स्टे जारी होने के पश्चात जी यदि कोई व्यक्ति निर्माण कार्य करता है तो उसके खिलाफ पुलिस के द्वारा सख्त कानूनी कार्रवाई की जाती है और अपराधी को 6 महीने की जेल अथवा बहुत अधिक जुर्माना भी लिया जाता है। इस प्रकार से आप अपनी जमीन पर स्टे आर्डर ले सकते हैं।

जमीन पर स्टे लेने में कितना खर्चा आता है? | Jamin Par Stay Order Lene me Kitna Kharch Aata Hai in Hindi 

अब आप समझ गए होंगे कि आप किस प्रकार से किसी भी जमीन पर हो रहे निर्माण कार्य को रोकने के लिए कोर्ट के सिविल जज से स्टे प्राप्त कर सकते हैं। अब हम आपको बताएंगे कि आपको जमीन पर स्टे लेने में के लिए कितने रुपए खर्च कर रहे होंगे? कोर्ट के द्वारा किसी भी जमीन पर स्टे जारी करने से पूर्व उसे जमीन की वैल्यू और वह जमीन किस जगह पर स्थित है आदि देखा जाता है।

यानी की जमीन जिस इलाके में मौजूद है उसके हिसाब से ही जमीन पर स्टे आर्डर लेने में खर्च आता है। हालांकि ग्रामीण क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली जमीन पर स्टे लेने में काम और वहीं शहरी जमीनों में स्टेटस लेने में अधिक खर्च करना पड़ता है। आसान भाषा में कहें तो जमीन पर स्टे लेने में कितना खर्च आता है? यह निश्चित नहीं है।

Jamin Par Stay Order Lene me Kitna Kharch Aata Hai Related FAQs

जमीन पर स्टे कहां से ले सकते हैं?

किसी भी प्रकार की जमीन पर स्टे आर्डर प्राप्त करने के लिए उम्मीदवार को वकील की सहायता से कोर्ट के सिविल जज के समक्ष वाद प्रस्तुत करना पड़ता है। 

क्या कोई भी व्यक्ति जमीन पर स्टे ले सकता है?

जी नहीं, कोई भी व्यक्ति जमीन पर स्टे आर्डर लेने के लिए वाद नही कर सकता है बल्कि इसके लिए आपको एक वकील हायर करना होगा।

जमीन पर स्टे कब लगाया जाता है?

जब कोई अन्य व्यक्ति किसी दूसरे की जमीन का स्वामी होने का दवा करता है तो इस स्थिति में जमीन मालिक कोर्ट में याचिका दायर करता है, जिसके बाद कोर्ट के द्वारा जमीन पर स्टे लगा दिया जाता है।

स्टे आर्डर के नियमों का पालन न करने से क्या होगा?

स्टे आर्डर के नियमों का पालन न करने से आप अपराधी माने जायेंगे और आपको 6 महीने के जेल के साथ साथ जुर्माना भी देना होगा। 

जमीन पर स्टे लेने में कितना खर्चा आता है?

जमीन की वैल्यू और जगह के हिसाब से जमीन पर स्टे लेने में कितना आता है। हालांकि गांव की जमीन पर काम और शहर की जमीन पर स्टे लेने में अधिक खर्च करना पड़ता है।

जमीन पर Stay ऑर्डर | jamin stay order | jamin stay kaise hota hai | jamin stay kaise kare- key99

निष्कर्ष

आज हमने अपने इस आर्टिकल के माध्यम से आप सभी को जमीन पर स्टे लेने में कितना खर्चा आता है? | Jamin Par Stay Order Lene me Kitna Kharch Aata Hai in Hindi इसके संबंध में विस्तार पूर्वक बताया है। अब आप जान चुके होंगे कि अगर कोई व्यक्ति आपकी जमीन पर अवैध कब्जा करके निर्माण कार्य शुरू करता है तो आप उसे किस प्रकार से रोक सकते हैं।

हम उम्मीद करते हैं कि आपको आज के इस आर्टिकल में बताइए सभी जानकारी पसंद आई होगी और आपके लिए उपयोगी साबित रही होगी। अगर अभी भी आपके मन में Jamin Par Stay Order Lene me Kitna Kharch Aata Hai से संबंधित कोई प्रश्न है या फिर आप इससे जुड़ी अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप नीचे कमेंट सेक्शन में लिखकर अपने प्रश्न हमसे पूछ सकते हैं। अगर आपको हमारा यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो इस आर्टिकल को अपने सभी दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें। 

Leave a Comment