जमीन का अग्रीमेंट क्या है? | जमीन का एग्रीमेंट कैसे करते हैं?

जब कोई व्यक्ति पैसे लेकर एक निश्चित अवधि के लिए अपनी जमीन किसी दूसरे व्यक्ति को देता है तो दोनों लोगों के बीच सहमति के लिए जमीन का एग्रीमेंट बनता है जिसमें दोनों पक्षों की कुछ शर्ते एवं नियम होते हैं जिन का उल्लंघन करने पर Jameen ka Agreement को खारिज किया जा सकता है। आमतौर पर जमीन का एग्रीमेंट वकीलों के द्वारा करवाया जाता है परंतु कुछ राज्यों में जमीन का एग्रीमेंट करवाने के लिए दोनों पार्टियों को कोर्ट में जाना पड़ता है।

अगर आप भी अपनी जमीन को अपनी सहमति पर किसी दूसरे व्यक्ति को देने के लिए जमीन का एग्रीमेंट तैयार करवाना चाहते हैं परंतु आपको जमीन का एग्रीमेंट कैसे करें? (How to make a land agreement?) के बारे में अधिक जानकारी नहीं है तो आप निश्चिंत होकर इस लेख को पूरा पड़ी है क्योंकि यहां हम आपको जमीन का एग्रीमेंट कैसे करवाते हैं? से जुड़ी समस्त जानकारी विस्तार पूर्वक प्रदान करेंगे ताकि आप बिना किसी समस्या के जमीन का एग्रीमेंट करवा सकें।

जमीन का एग्रीमेंट क्या है? What is a land agreement?

जमीन का एग्रीमेंट एक ऐसा सरकारी अथवा कानूनी दस्तावेज होता है जिसमें जमीन की खरीद या बिक्री अथवा भाड़े पर देने की समस्त जानकारी उपलब्ध होती है जमीन का एग्रीमेंट एक प्रकार से सहमति पत्र होता है जो किसी जमीन मालिक के द्वारा अपनी जमीन किसी दूसरे व्यक्ति को बेचने अथवा भाड़े पर देने के लिए दोनों व्यक्तियों के बीच सहमति के लिए तैयार किया जाता है।

जमीन का अग्रीमेंट क्या है जमीन का एग्रीमेंट कैसे करते हैं

इस जमीन एग्रीमेंट में सभी जरूरी जानकारी एवं दोनों पक्षों के हस्ताक्षर लिखे होते हैं हमारे बीच ऐसे बहुत से लोग हैं जो जमीन एग्रीमेंट कैसे करते हैं? के बारे में नहीं जानते हैं यही कारण है की आज के इस पोस्ट में हम आपको जमीन एग्रीमेंट कैसे तैयार करें? से जुड़ी हर एक जरूरी जानकारी स्टेप बाय स्टेप विस्तारपूर्वक बताने जा रहे हैं इसलिए आपसे अनुरोध है कि आप इस आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़िए।

जमीन का एग्रीमेंट कराने के लिए जरूरी दस्तावेज Documents required to get land agreement

किसी भी तरह की जमीन को बेचने अथवा भाड़े पर देने के लिए जो एग्रीमेंट तैयार किया जाता है उसमें कुछ जरूरी दस्तावेजों की फोटो कॉपी लगाने की आवश्यकता होती है यदि आपको जमीन के एग्रीमेंट में लगने वाले दस्तावेजों के बारे में पता नहीं है तो नीचे बताएगा पॉइंट्स को पढ़ें।

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पहचान प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड
  • जमीन से जुड़े सभी जरूरी दस्तावेज
  • 500 का स्टांप पेपर
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर और दो गवाह

जमीन का एग्रीमेंट कैसे करते हैं? How to do land agreement?

जैसा कि हम आपको बता चुके हैं कि जमीन का एग्रीमेंट एक कानूनी प्रक्रिया है जिसे किसी अनुभवी वकील अथवा कोर्ट के द्वारा ही कराया जा सकता है. अगर आप भी अपनी जमीन को बेच रहे है अथवा किसी व्यक्ति को भाड़े पर देने के लिए जमीन का एग्रीमेंट यानी सहमति पत्र तैयार करवाना चाहते हैं तो आपको नीचे बताएगा निम्नलिखित स्टेप्स को ध्यान पूर्वक फॉलो करना होगा, जो कुछ इस प्रकार से नीचे बताए गए हैं।

  • जमीन का एग्रीमेंट बनवाने के लिए सर्वप्रथम आपको कम से कम ₹500 का स्टांप पेपर की आवश्यकता होगी, इसे आप बड़ी ही आसानी से किसी भी वकील अथवा कोर्ट से प्राप्त कर सकते हैं।
  • स्टांप पेपर खरीदने के बाद आपको इसमें उस व्यक्ति की सभी व्यक्तिगत जानकारी दर्ज करनी होगी जिसे आप अपनी जमीन बेच रहे हैं अथवा भाड़े पर दे रहे है।
  • इसके बाद जमीन संबंधित सभी जानकारी जैसे जमीन किसके नाम पर है जमीन का आकार कितना है जमीन की लंबाई चौड़ाई इत्यादि को लिखना होगा।
  • तत्पश्चात आपको जमीन की कीमत लिखनी होगी यानी कि आप जमीन कितनी कीमत पर खरीद रहे हैं या बेच रहे हैं साथ ही आपको लिखना होगा कि आप जिसे अपनी जमीन दे रहे हैं वह कितना पेमेंट कर रहा है।
  • अब आप को जमीन के एग्रीमेंट में जमीन पर चल रहा है अथवा नहीं यदि लोन चल रहा है तो उसका भुगतान आप करेंगे अथवा सामने वाली पार्टी यह जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • इतना करने के बाद आपको एग्रीमेंट को नोटराइस करवाने की जरूरत पड़ेगी, जिसके लिए आपको दो गवाह की आवश्यकता होगी, साथ ही आपको गवाहों के सिग्नेचर और आधार कार्ड की फोटोकॉपी भी लगानी होगी।
  • उपरोक्त जानकारी लिखने के पश्चात दोनों पार्टियों को एग्रीमेंट पर सिग्नेचर करने होंगे यदि सामने वाली पार्टी लिखी पढ़ी नहीं है तो आप एग्रीमेंट पर अंगूठे का निशान भी ले सकते हो।
  • इतना सब करने के पश्चात आपको एग्रीमेंट की फोटो कॉपी करा कर सामने वाले पार्टी को देना होगा और ओरिजिनल कॉपी को अपने पास रखना होगा।

जमीन एग्रीमेंट में कितना एडवांस देना पड़ता है?

वैसे तो जमीन का एग्रीमेंट कराने के के लिए सामने वाली पार्टी को जमीन मालिक को लगभग 10% पैसे एडवांस देने पड़ते हैं आप चाहे तो 5% भी एडवांस दे सकते हो। उदाहरण के लिए यदि आप किसी व्यक्ति से ₹100000 मेंजमीन खरीद रहे हो तो आपके लिए उस व्यक्ति को जमीन की कीमत का 10% यानी 10000 रुपए देने होंगे

और यह सभी जानकारी आपको एग्रीमेंट में दर्ज करानी होगी। ताकि यदि बाद में जमीन मालिक अपनी बातों से मुकर जाए तो एग्रीमेंट के अंतर्गत लिखी गई शर्तों एवं कानूनों के हिसाब से उसके खिलाफ कड़ी कानूनी कार्यवाही की जा सके।

एग्रीमेंट होने के बाद प्रॉपर्टी मालिक रजिस्ट्री ना करे तो क्या करें?

कई बार ऐसा होता है कि हम जमीन का एग्रीमेंट करा लेते हैं लेकिन जमीन का मालिक रजिस्ट्री कराने से मुकर जाता है जिसके बाद हमारे मन में एक ही सवाल आता है एग्रीमेंट होने के बाद प्रॉपर्टी मालिक रजिस्ट्री ना करे तो क्या करें? अगर आप भी इस सवाल का जवाब प्राप्त करना चाहते हैं तो हम आपको बता दें कि यदि आप किसी व्यक्ति से जमीन खरीद रहे हैं या फिर भाड़े पर ले रहे है, जिसके लिए आपने एग्रीमेंट तैयार कर लिया है.

लेकिन प्रॉपर्टी मालिक रजिस्ट्री नहीं करा रहा है तो इस स्थिति में आप अपने नजदीकी पुलिस स्टेशन में जाकर उस व्यक्ति के खिलाफ धोखाधड़ी की शिकायत दर्ज कर सकते है या फिर आप चाहे तो कोर्ट में जाकर जमीन मालिक के खिलाफ केस कर सकते है और जमीन मालिक से रजिस्ट्री अथवा अपना एडवांस पैसा आसानी से प्राप्त कर सकते है।

Related FAQs

जमीन एग्रीमेंट क्या होता है?

यह एक बहुत ही जरूरी सरकारी एवं कानूनी दस्तावेज होता है जिसे जमीन मालिक एवं जमीन लेने वाले व्यक्ति के मध्य सहमति के लिए तैयार किया जाता है। जमीन का एग्रीमेंट मकान, खेत, अथवा अन्य प्रकार की जमीन को बेचने या भाड़े पर देने के लिए तैयार कराए जाते है।

जमीन का एग्रीमेंट किसके द्वारा बनाया जाता है?

अगर आप चाहे तो स्वयं भी जमीन का एग्रीमेंट तैयार कर सकते हैं लेकिन अगर आप बाद में होने वाले विवादों से बचना चाहते हैं तो जमीन का एग्रीमेंट वकील से तैयार कर रह सकते हैं ज्यादातर जमीन के एग्रीमेंट अनुभवी वकीलों के द्वारा ही तैयार कराए जाते हैं।

जमीन एग्रीमेंट के दौरान जमीन मालिक को कितना एडवांस देना पड़ता है?

जमीन एग्रीमेंट के दौरान जमीन मालिक को आप को जमीन की कीमत का लगभग 10% एडवांस देना पड़ता है जिसकी जानकारी आपको जमीन एग्रीमेंट में दर्ज करानी होती है।

जमीन का एग्रीमेंट कराने के लिए कितनी गवाहों की जरूरत पड़ती है?

जमीन के एग्रीमेंट के लिए अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग कानून हैं जिनमें से कुछ राज्य ऐसे भी हैं जहां जमीन एग्रीमेंट कराने के लिए केवल दोनों पक्षों की आवश्यकता पड़ती है वहीं कुछ राज्य में जमीन एग्रीमेंट के लिए लगभग दो गवाहों की आवश्यकता पड़ती है।

जमीन एग्रीमेंट के नियमों का उल्लंघन करने पर क्या करें?

यदि कोई व्यक्ति जमीन का एग्रीमेंट कराने के बाद उसमें लेकर नियमों का उल्लंघन करता है तो ऐसी स्थिति में आप नजदीकी पुलिस स्टेशन में अदरक कोर्ट में जाकर उस व्यक्ति के खिलाफ कंप्लेंट कर सकते है लेकिन इसके लिए आपको जमीन एग्रीमेंट की आवश्यकता होगी।

निष्कर्ष

हम अपनी वेबसाइट के लिए के माध्यम से अपने पाठकों को सदैव कुछ ना कुछ नया बताते रहते हैं आज हमने आप सभी को इस लेख के माध्यम से जमीन का एग्रीमेंट कैसे कराते हैं? के संबंध में पूरी जानकारी विस्तार से उपलब्ध कराई है हमें उम्मीद है कि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा होगा अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो कृपया करके इसे अपने सभी दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें

Leave a Comment