हिमाचल प्रदेश ऑनलाइन भूलेख कैसे देखें? जमीन का नक्शा, जमाबंदी

1

दोस्तो आज हम आपको हिमाचल प्रदेश के ऑनलाइन भूलेख के बारे में जानकारी देने वाले है , और खास बात यह है की आज हम आपके लिए एक महत्वपूर्ण सुचना लेकर आये हैं जिन लोगों को अपनी जमीन की जमाबंदी या फिर जमीन की कोई भी समस्या हो तो अब डरने की कोई भी जरूरत नही है क्योंकि अब हिमाचल प्रदेश सरकार ने यहाँ के लोगों को हो रही परेशानी को देखते हुए हिमाचल प्रदेश जमाबंदी और खसरा नकल को ऑनलाइन उपलब्ध कराया है इसको ऑनलाइन करने का मुख्य उद्देश्य यह है कि लोगो को ज्यादा परेशानी का सामना न करना पड़े क्योंकि पहले यदि किसी नागरिक को जमाबंदी की कोई भी जानकारी हासिल करने के लिए बहुत मुश्किलो का सामना करना पड़ता था । इसके तहत अब सभी किसान और लोग हिमाचल प्रदेश भू – अभिलेख, जमाबंदी खसरा की नकल की जानकारी ऑनलाइन प्राप्त कर सकते हैं ।

हिमाचल प्रदेश में यदि लोगो को जमाबंदी या फिर जमीन का नक्शा या कोई और सुविधा के बारे में लाभ लेना होता है तो उन्हें काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है , और यही सबसे बड़ा कारण है कि हिमाचल प्रदेश राजस्व विभाग ने सारे जमीनी रिकॉर्ड ऑनलाइन कर दिए हैं । अब इस सुविधा के उपलब्ध होने के कारण अब आपको किसी भी सरकारी दफ्तर में चक्कर लगाने की जरूरत नही पड़ेगी । आप अपने घर मे बैठकर ही अपने मोबाइल फ़ोन या कंप्यूटर से सारी जानकारी आसानी से हासिल कर सकते है ।

हिमाचल प्रदेश के नागरिकों को अब चिंता करने की बिल्कुल भी जरूरत नही है क्योंकि आपकी जानकारी के लिए बता दें कि Himachal Pradesh Land Records अब ऑनलाइन हो चुका है। इसके जरिये आसानी से लोग अपनी जमीन की जानकारी ऑनलाइन हासिल कर सकते है और साथ ही अपनी जमीन से जुडी जानकारी को डाऊनलोड भी कर सकते है। लोगो को अब पतवार खाने और तहसील जाने की जरूरत नही होगी और न ही किसी सरकारी दफ्तर में चक्कर लगाने की जरूरत पड़ेगी । साथ ही इसका सबसे बड़ा फायदा यह है कि अब हिमाचल प्रदेश भू – अभिलेख/ जमाबंदी / खसरा खतौनी की जानकारी ऑनलाइन होने के कारण अब भूमि का डाटा सुरक्षित भी रखा जा सकता है और डेटा को वायरल होने से बचाया जा सकता है ।

भूलेख क्या होता है ?

हम आपको आगे भूमि के बारे में लिखित रूप में जानकारी दे रहे है इसे अच्छेसे पढ़िए ताकि इसके बारे में आप अच्छेसे जान पाए। दोस्तो भूलेख को अलग अलग राज्यों में अलग अलग नामो से जाना जाता है जैसे की – भूमि का ब्यौरा, जमाबंदी, भूमि अभिलेख, खेत के कागजात, खेत का नक्शा, खाता, इत्यादि और भी बहुत ऐसे नाम है जो लोग अपने अपने हिसाब से जोड़ते है।

सबसे पहले यह जान लीजिए कि पहले हिमाचल प्रदेश में पहले यह सब जानकारी निकलने में काफी वक्त लग जाता था जिसके कारण लोग बहुत परेशान हो जाते थे। बहुत से लोगो को यह समस्या होती थी इसीलिए इसी समस्या का समाधान करने के लिए भूलेख का रिकॉर्ड मैनेज करने के उद्देश्य से इसका भूलेख पोर्टल खतौनी को कंप्यूटरीकृत किया गया है ताकि आगे अब किसी को परेशानी का सामना न करना पड़े।

इस उपाय की मदद से अब भू-अभिलेखों का रोजना की सभी गतिविधियों का ब्यौरा सुव्यवस्थित करना आसान हो गया है अब कोई भी यह आसानी से जान पाता है। यदि आप चाहो तो भूलेख पोर्टल खतौनी की सभी जानकारी आप ऑनलाइन प्रकिया करके आसानी से प्राप्त कर सकते है। और साथ ही आप घर बअपने क्षेत्र के पटवारी से भी भूलेख की जानकारी मिल जाती है।

ऑनलाइन भूलेख के लाभ क्या हैं?

वैसे तो भूलेख के कई सारे लाभ है, परंतु हम आपको उनमे से कुछ जरूरी लाभ बताने वाले है। तो चलिए अब हम आपको हिमाचल प्रदेश के भूलेख योजना के लाभ बताते है।

हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा इस वेबसाइट को उपलब्ध करवाया गया है , इस ऑनलाइन वेबसाइट पर भूलेख देखने के कई सारे लाभ उपलब्ध है , परंतु आज हम आपको उनमे से कुछ ही लाभो के बारे में बताने जा रहे है । तो चलिए अब ऑनलाइन भूलेख के लाभो के बारे में जानते है ।

1. अब भूलेख देखने के लिए ऑनलाइन वेबसाइट का निर्माण किया गया है तो इसका सबसे बड़ा लाभ यह है कि अब आम नागरिक और जनता को किसी भी तहसील कार्यलय या सरकारी दफ्तरों में चक्कर नही लगाने पड़ेंगे ।

2. इस ऑनलाइन पोर्टल का दूसरा सबसे बड़ा लाभ यह है कि अब किसी को भी घुस देने की जरूरत नही पड़ेगी । पहले जब ऑनलाइन पोर्टल उपलब्ध नही थे तब गरीब जनता को बहुत लुटा जाता था परंतु अब ऑनलाइन वेबसाइट आने के कारण यह सब बंद हो चुका है ।

3. ऑनलाइन वेबसाइट उपलब्ध होने से अब सभी लोगो के समय की बचत होगी , पहले लोगो को बहुत समय नष्ट करना पड़ता था ।

4. इसका सबसे आखरी फायदा यह है कि अब सभी लोग घर बैठे ही अपने मोबाइल फ़ोन या कंप्यूटर पर खुद ही ऑनलाइन वेबसाइट ओपन करके देख सकते है ।

हिमाचल प्रदेश ऑनलाइन भूलेख कैसे देखे ?

1. हिमाचल प्रदेश का ऑनलाइन भूलेख देखने के लिए आपको सबसे पहले हिमाचल प्रदेश की आधिकारिक वेबसाइट – https://himachal.nic.in/ पर जाना हैै ।

2. जैसे ही आप ऊपर दिए गए लिंक पर क्लिक करके ओपन करोगे वैसे ही आपके सामने नीचे दिखाया गया पेज खुल जायेगा ।

3. यहां आपको “e-Services”  के तहत, “View Land Records” पर क्लिक करना है ।

4. जैसे ही आप view land records पर क्लिक करते है यहां क्लिक करने पर आपके सामने एक पेज खुलेगा। जहां आपको भूमि अभिलेख प्राप्त करने के लिए “Jamabandi” लिंक पर क्लिक करना है ।

5. जैसे ही आप लिंक पर क्लिक करते है वैसे ही आपके सामने नीचे दिखाया गया पेज खुलेगा ।

 

6. अब आपको नीचे दिखाई गए सभी रिक्त स्थानों के  जगह पर जानकारी भरनी है और उसके बाद क्यापचा कोड डालकर ओके बटन पर क्लिक कर देना है । अब आप चाहे तो इसकी प्रतिलिपि भी निकाल सकते है ।

दोस्तो आज के इस लेख में हमने आपको हिमाचल प्रदेश के भूलेख के बारे में जानकारी दी है । यदि यह लेख आपको पसंद आये तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे ।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here